fitscale.in

Pronal Breathing in hindi - क्या है, इसे कैसे करें और इसके लाभ।

देश में COVID 19 वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप के कारण हालात बेकाबू होते जा रहे हैं।

इस दूसरी लहर के कारण कोरोना के मरीजों को बहुत जय्दा संख्या में ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है, लेकिन देशभर में ऑक्सीजन की भारी कमी के कारण कई मरीजों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

ऐसी कठिन स्थिति को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सांस लेने में जिन मरीजों को तकलीफ हो रही है, उन मरीजों के लऐ प्रोनिंग के कुछ आसान तरीके सुझाए हैं। प्रोनाल ब्रीथिंग से कोरोना के मरीजों को अपना ऑक्सीजन लेवल सुधारने में काफी मदद मिल सकती है।

प्रोनिंग प्रक्रिया या प्रोनाल ब्रीथिंग चिकित्सकीय रूप से सिद्ध है की वह कोरोना के मरीजों की ऑक्सीजन लेवल सुधारने में काफी मदद करती है।

आज हम आपको Pronal Breathing in hindi – क्या है, इसे कैसे करें और इसके लाभ के बारे में बताएंगे, साथ ही इससे मिलने वाले स्वास्थ्य लाभ भी बताएंगे।

प्रोनाल ब्रीथिंग क्या है? What is Pronal Breathing?

प्रॉनिंग प्रक्रिया – प्रोनिंग एक मरीज को उनके पेट पर लेटाने की प्रक्रिया है। प्रोनाल ब्रीथिंग कम ऑक्सीजन वाले रोगियों की ऑक्सीजन के स्तर में सुधार करने के लिए चिकित्सकीय रूप से सफल हुई है।
इस प्रक्रिया का उपयोग तब किया जा सकता है जब रोगी को साँस लेने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है और SpO2 स्तर 94% से कम है।
कोरोनवायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण करने वाले मरीजों को कोविड केंद्र या तो घर के एकांत में रखा जाता है। हालांकि, वह लोग जो ऑक्सीजन की कमी का सामना कर रहे हैं, या चिकित्सा सहायता की प्रतीक्षा कर रहे हैं, वह लोग बस पेट के बल लेट जाये यह एक बड़ी सहयता हो सकती है।

ध्यान दें : अगर किसी को भी प्रोनाल ब्रीथिंग करते होए कोई समस्या या परेशानी हो रही है तो यह प्रक्रिया तुरंत रोक दे। खाने के बाद कभी भी प्रोनिंग न करे।

Pronal Breathing in Hindi - Fitscale

प्रोनाल ब्रीथिंग करने का तरीका (Step by Steps)

प्रोनाल ब्रीथिंग करने क लिए सबसे जरुरी तकियो को तरीके से लगाना है, तकिये आपको इस तरह से लगाने है – 1 तकिया आपको चेहरे और गरदन के नीचे, 1 तकिया पेट क नीचे, और 2 तकिये आपको पिंडली (Shin) के नीचे रखना है।

1. Start with lying on your stomach - ( शुरुआत में आप पेट के बल लेट जाएं। )

  • सबसे पहले तो आप अपने पेट क बल लेट जाए।
  • तकियो को ऊपर दिए होए चित्र के हिसाब से रखे।
  • हाथो को आपने आराम के हिसाब से रखे।

2. Then Lying on your right side - ( फिर अपनी दाहिनी तरफ होकर लेट जाएं )

  • सीधे लेटने के बाद आप दाहिनी तरफ लेट जाएं।
  • अपने शरीर और सिर को दाई और रखें।
  • तकियो को आप अपने तरिके से भी लगा सकते है या तो ऊपर दिए होए चित्र की तरह भी।

3. Sitting Up - ( आधा उठे )

  • दाहिनी तरफ लेटने क बाद आप आधे बैठ जाए।
  • 2 तकिए लें और उन्हें अपनी पीठ के पीछे रखें जैसा कि ऊपर दिए गए चित्र में है।
  • तकिए को आप अपनी सहूलियत के हिसाब से रख सकते हैं, लेकिन पीठ सीधी नहीं होनी चाहिए।

4. Then Lying on the left side - ( उसके बाद अपनी बाईं ओर लेट जाएं )

  • अब आप अपनी बाई तरफ लेट जाए।
  • अपनी सहूलियत के हिसाब से तकिए रखें या तो ऊपर दिए होए चित्र के हिसाब से।

5. Go back to lying on your belly - ( फिर से अपने पेट के बल लेट जाएं )

  • फिरसे आप अपने पेट क बल लेट जाए।
  • तकियो को ऊपर दिए होए चित्र के हिसाब से रखे।
  • हाथो को आपने आराम के हिसाब से रखे।

कृपया ध्यान रखये की आप अपनी स्थिति को हर ३० मिनट में बदलते रहे।
तकिये आप अपने आराम के हिसाब से भी लगा सकते है।

यह पोस्ट केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है। इनमें से किसी भी सांस लेने की स्थिति शुरू करने से पहले, आपको अपने परिवार के डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।
मुझे उम्मीद है कि आपको Pronal Breathing in Hindi से अच्छी जानकारी मिली होगी।

Pronal Breathing in hindi – क्या है, इसे कैसे करें और इसके लाभ।

How to Increase Blood Oxygen Level in Body

10 Easy Yoga Poses or Yoga Asanas for Beginners

Nutrition Facts of Banana

What Is The Best Chest Workout at home In The World?

7 Best Biceps Workout For Big Biceps |Fitscale FItness|

How to do Surya Namaskar Step by Step Guide

What Is Whey Protein & Whey Protein Isolate Really All About?

Everything You Need to Know About Keto Diet: Beginner’s Guide